दाँत आना

दांतो निकलने के लक्षण:-

बच्चों दांत निकलते समय अलग-अलग प्रकार के लक्षण पाये जाते है,जो इस प्रकार है-

बच्चे में चीज़ों को कुतरने वाले लक्षण:-

ज़्यादातर बच्चे दांत निकले वक़्त उनमे दाँतो को नीचे की ओर अधिक दबाव देने की कोशिश करते रहते है। दाँतो के टीसते समय शिशु का मन चीजों को तेज़ी सी दबाने चाह होती है| ऐसी प्रवृति में बच्चे चीजो को चबाना शुरू कर देते है, लक्षण से पेरेंट्स को ये अनुभव हो जाता है कि उनके बच्चे के ददाँत निकलना शुरू गया है।

दांत निकलते वक़्त मसूड़ों सूजन का होना:-

दांत निकलते समय मसूड़ों में सूजन और लाल रंग की एरिया दिखने लगती है,कभी-कभी दांत निकलने वाले एरिया में उभरी अथवा त्वचा का फैंटली जैसी लगती है। ऐसे आप अपने (बच्चे मुँह खोलने के लिए राजी करने की कोशिश करते हैं) और आप sure हो जाते की ऐसी स्थिति में बच्चे के दांत निकलना शुरू हो गया है।

बच्चो में लार टपकना:-

साधारणतया बच्चे के दाँत निकलते समय उनके मुह से लार टपकने लगते है,ऐसे में आप ये ना समझे की लार टपकने से बच्चे की दांत निकल रहे है| और ऐसे में ये होना चाहिए की लार टपकने से बच्चे के दांत का लक्षण दिख रहा है |

फुस्सिनेस का रात में होना:-

दांत का ेरप्शन होना – दाँत मसूड़ों और हड्डी की ओऱ जब बढ़ने लगते है- ऐसी अवस्था ज़्यादातर दिन अपेक्षा रातों में होती है,इसीलिए आपके बेबी चिड़चिड़े हो जाते है|

उपाय:

जिस समय बच्चों के दाँत आने आरंभ होते है उस समय बच्चों को अधिक कष्ट होता है यही नही उन्हें अनेक रोग भी लग जाते है | इस लिए जेसे ही बच्चा दाँत निकालने लगे तो उसे अंगूर के रस के दो-दो चमच दिन मे तीन चार देते रहें उन्हे काफ़ी आराम मिलेगा |

Please follow and like us:
Social media & sharing icons powered by UltimatelySocial