दुबलेपन दूर भगाएं और वजन बढ़ाएं


दुबलेपन दूर भगाएं और वजन बढ़ाएं

– जिस प्रकार मोटापा एक समस्या है, उसी तरह दुबला होना भी एक परेशानी है। वास्तव में दुबलापन कोई रोग तो नहीं है किन्तु यह अनेक रोगों का जनक हो सकता है।

सेव खाएं :

इंग्लैण्ड में सेव को मांसफल कहा जाता है क्योंकि इसके सेवन से शरीर में तेजी से मांस चढ़ता है। सेव में यह विशेषता भी होती है कि यह शरीर के विभिन्न अंगों की आों को नष्ट करके शरीर को शक्तिशाली बनाने में सहायक सिद्ध होता है। सेव में फास्फोरस व लौह तत्त्वों की अधिकता के कारण यह शरीर को शक्ति प्रदान करता है।

नीबू का सेवन करें :

नीबू पानी में शहद मिलाकर नित्य पीने से लाभ होता है। केला : नियमित रूप से तीन माह तक दो केले खाकर दूध पीने से दुबले-पतले व्यक्ति भी हृष्ट-पुष्ट हो जाते हैं। केले को सुखाकर उसका आटा बनाकर कमजोर व्यक्तियों को खिलाने से वे हृष्ट-पुष्ट हो जाते हैं।

अनार खाएं :

अनार रक्तवर्धन करता है, नियमित रूप से अनार खाने से व्यक्ति मोटा होने लगता है।

नारियल का सेवन करें:

मिश्री के साथ नारियल खाने से मोटापा बढ़ता है।

छुहारा खाएं :

छुहारा शरीरमोटा करने में सहायक है। दूध में दो छुहारे उबालकर खाने से मांस व बल बढ़ता है।

गाजर खाएं :

नियमित गाजर का रस पीने से मोटापा बढ़ता है।

मूंगफली का सेवन करें:

थोड़ी मात्रा में नित्य मूंगफली खाने से मोटापा बढ़ता है। इसे दूध के साथ खाएं तो ज्यादा फायदा होता है।

बादाम का सेवन करें:

बादाम को पीसकर मक्खन व मिश्री के साथ मिलाकर खिलाने से लाभ होता है। परंतु इसके पश्चात एक गिलास गरम दूध अवश्य पीना चाहिए। रात को भीगे हुए बादामों को प्रात:काल छिलका उतारकर भली प्रकार,पीस लें और आवश्यकतानुसार पानी मिलाकर पी लें | अधिक गर्मी के दिनों में इसे दूध में मिश्री के साथ मिलाकर पीने से लाभ होता है।

भिगोए बादामों की गिरी को छीलकर प्रात:

काल पीस लें। पिसी हुई लुगदी को एक कड़ाही में घी डालकर भूनें। जब इस लुगदी का रंग भूरा होने लगे तो उसमें आवश्यकतानुसार दूध डालकर एक-दो उबाल आने दें। पीने लायक गरम रहने की स्थिति में इसे पी लें।

आम खाएं :

आम के सेवन से शरीर पुष्ट बनता है। आम के रस को दूध में मिलाकर पीने से एक माह में ही शरीर में फक महसूस होने लगता है।

खजूर खाएं:

खजूर को दूध में उबालकर पीने से शरीर हृष्ट-पुष्ट बनता है।

खरबूजा खाएं:

उचित मात्रा में खरबूजे के सेवन से शरीर में बल और शक्ति में व्रद्धि होती है।

गन्ना का सेवन करें:

गन्ने के ताजा रस को पीने से दुबला-पतला शरीर भी कुछ ही महीनों में भर जाता है।

नारंगी का सेवन करें:

नित्य एक गिलास नारंगी का रस सुबह व दोपहर में पीते रहने से कुछ सप्ताह में ही शरीर में नई जान आ जाती है।

अनानास का सेवन करें:

अनानास में शरीर को हृष्ट-पुष्ट करने के गुण विद्यमान हैं। इसका नियमित सेवन शक्तिवर्धक है।

अमरुद खाएं:

नित्य 100 ग्राम अमरुद कुछ माह तक खाने से व्यक्ति हष्ट-पुष्ट हो जाता है।

Please follow and like us:
Social media & sharing icons powered by UltimatelySocial