मधुमेह (डाइबिटियेज़) को जड़ से दूर करने का घरेलू इलाज

मेथीदाना छ: ग्राम लेकर थोडा कूट ले और साय 250 ग्राम पानी मे भिगो दे| प्रात: इसे खूब घोटे और क्पडे से छान कर, बिना मीठा मीलाए, पी लिया करे | दो मास सेवन करने से म्धुमेह(diabetes) से छुटकारा मील जाता हे|

अन्य वीधी –

दो चम्‍मच मेथीदाना और एक चम्‍मच सौफ़ मीला कर काच के गिलास मे 200 ग्राम पानी मे रात को भीगो दे| सुबह क्पडे से छान कर पी ले| जीन रोगियो को मेथी गर्मी करती हो एसे गर्म प्रकृति वाले म्धुमेह तथा अलसरेटीव कोलाइटिस के रोगियो के लिए यह सौफ़ के साथ मेथी वाला प्रयोग अधिक कारगर सिद हुआ हे|

(diabetes)वीकल्प –

(क)

जामुन के प़तो का रस

– जामुन के चार ह्र्रे और नरम पते खूब बारीक कर साठ ग्राम पानी मे रगड ले छान कर प्रात: दस दिन तक लगतार पीए| त्त्प्श्चात इसे हर दो म्हीने बाद दस दिन ले| जामुन के प्त्तो का यह रस मूत्र मे श्कर जाने की शिकाय्त मे उतम हे|

(ख)

जामुन के प्त्ते

– रोग की प्रारम्भिक अवस्था मे जामुन के प्त्ते चार चार प्रात: त्था साय च्बकर खाने मात्र से तीसरे ही दिन म्थुमेह मे लाभ होगा|

(ग)

जामुन के फ्ल

– अच्छे पके जामुन के फ्लो को 30 ग्राम लेकर 300 ग्राम उबलते हुए पानी मे मिला कर ढक दे| आधा घ्नटे बाद म्स्ल कर छान ले| इसके तीन भाग करके एक – एक मात्रा दिन मे तीन बार पीने से म्धुमेह के रोगी के मूत्र मे श्करा बहुत कम हो जाती हे| नियम्म पूर्वक जामुन के फलो के मौस्म मे कुछ स्म्य तक इसे सेवन करने से रोगी बिल्कुल स्वस्थ हो जाता हे|

(घ)

जामुन के फलो की गुठलियो की गिरिया

– इन गिरियो को छाया मे सूखा कर चूर्ण बना कर प्रति दिन प्रात: व साय तीन ग्राम ताज़ा पानी के साथ लेते रहने से म्धुमेह दूर होता हे और मूत्र घटता हे| प्रात: कम से कम इक्कीस दिन तक ले|

Please follow and like us:
Social media & sharing icons powered by UltimatelySocial